Betiyo ki Siskiya

50.00

इस काव्य में औरतों की भावनाओं के हर एक कोने का वर्णन है। औरत बहुत सारा दुःख झेलती है यह बात लोग जानते है बस मानते नहीं है । इस काव्य के माध्यम से अंजली ने औरत के दर्द को बस एक वाणी दी है। मुझे पूरा यकीन है यह काव्य आपको जरूर पसंद आएगा।…

Category: ,

Description

इस काव्य में औरतों की भावनाओं के हर एक कोने का वर्णन है। औरत बहुत सारा दुःख झेलती है यह बात लोग जानते है
बस मानते नहीं है । इस काव्य के माध्यम से अंजली ने औरत के दर्द को बस एक वाणी दी है। मुझे पूरा यकीन है यह काव्य आपको
जरूर पसंद आएगा। अंजली के आगे की साहित्यिक कार्य के लिए मेरी ओर से बहुत सारी शुभकामनाएँ।

प्रा. अश्विनी आढवळकर
(हिंदी विभाग)

Additional information

Weight 0.200 g
Dimensions 15 × 20 × 2 cm
Author

Language

Type

ISBN

978-93-94214-57-6

Pages

28

Date of Publishing

3/1/2024

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “Betiyo ki Siskiya”

Your email address will not be published. Required fields are marked *